यह है सबसे ब्रांडेड व्हिस्की, देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी है काफी पॉपुलर, जाने कीमत

यह है सबसे ब्रांडेड व्हिस्की, देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी है काफी पॉपुलर। शराब प्रेमियों के लिए खुशखबरी है! जी हां, भारतीय निर्मित व्हिस्की को दुनिया की सर्वश्रेष्ठ व्हिस्की का खिताब मिला है। यह गौरवशाली उपलब्धि हासिल करने वाली कंपनी है – अमृत डिस्टिलरीज। लंदन में आयोजित 2024 इंटरनेशनल स्पिरिट्स चैलेंज में अमृत डिस्टिलरीज की जीत भारतीय शराब उद्योग के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है। इस प्रतियोगिता के 29वें संस्करण में दुनिया भर के शीर्ष व्हिस्की ब्रांड शामिल थे, जिनमें स्कॉटलैंड, आयरलैंड और जापान के नाम प्रमुख थे। लेकिन इस बार चैंपियन बनी भारत की अमृत व्हिस्की! आइए अब जानते हैं इस शानदार व्हिस्की ब्रांड के निर्माता और उनकी सफलता के बारे में।

यह भी पढ़िए – Punch का बारीक़ पंचर बना देगा Maruti Alto का रापचिक लुक, कम कीमत में शानदार फीचर्स और तगड़े इंजन से लोगो के दिलो पे करेगी राज

विदेश में भी है इसकी काफी डिमांड

आजादी के बाद 1948 में जे.एन. राधाकृष्ण राव जगडाले द्वारा स्थापित, अमृत भारत की पहली सिंगल माल्ट व्हिस्की है। आज यह देश और विदेश दोनों जगहों में प्रसिद्ध है। शुरुआत में अमृत डिस्टिलरीज इंडियन मेड फॉरेन लिकर (IMFL) बनाती थी। इन उत्पादों की आपूर्ति मुख्य रूप से कर्नाटक और केरल के कैंटीन स्टोर्स में की जाती थी। कंपनी की मुख्य डिस्टलरी का निर्माण 1987 में हुआ था। यह कंबीपुरा में स्थित है और चार एकड़ में फैला हुआ है।

जेएन राव जगडाले का 1976 में निधन हो गया। उनके बाद उनके बेटे नीलकंठ राव जगडाले ने कंपनी की कमान संभाली। वह कंपनी के सीएमडी बने। उनके नेतृत्व में अमृत डिस्टिलरीज ने नई ऊंचाइयां हासिल कीं। कंपनी ने काफी तरक्की की और इंडस्ट्री में एक बड़ा नाम कमाया।

पिता के बाद अब बेटे ने इसको बढ़ाया आगे

पिता के निधन के बाद रक्षित एन. जगडाले ने इस विरासत को आगे बढ़ाया। उन्होंने कंपनी के प्रबंध निदेशक के रूप में पदभार संभाला। रक्षित ने आधुनिक बाजार की जरूरतों को पूरा करने के लिए कई महत्वपूर्ण बदलाव किए। 2022 में, जगडाले ने घोषणा की कि अमृत एक नया ब्रांड ‘सिंगल माल्ट्स ऑफ इंडिया’ लॉन्च करने जा रही है। इस प्रोजेक्ट के तहत, अमृत भारत के विभिन्न हिस्सों से बेस स्पिरिट खरीदेगा और उन्हें अलग-अलग तरीकों से परिपक्व करके बेचेगा। इस शोध का पहला परिणाम सामने आया ‘अमृत निधल पीटेड इंडियन व्हिस्की’ के रूप में। इसे भारत के तटीय क्षेत्रों से लाए गए बेस स्पिरिट से बनाया गया था।

यह भी पढ़िए – Punch का बारीक़ पंचर बना देगा Maruti Alto का रापचिक लुक, कम कीमत में शानदार फीचर्स और तगड़े इंजन से लोगो के दिलो पे करेगी राज

जाने कितनी है इसकी कीमत

मिंट लाउंज की एक रिपोर्ट के अनुसार, अमृत निधल पीटेड इंडियन व्हिस्की की कुल 12,000 बोतलों में से 1,200 बोतलें भारत में 5,996 रुपये में बेची गई थीं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जगडाले परिवार की कुल संपत्ति 70,000 करोड़ रुपये से भी अधिक है।

2004 में, इस व्हिस्की को ‘अमृत सिंगल माल्ट व्हिस्की’ के नाम से स्कॉटलैंड के ग्लासगो में लॉन्च किया गया था। ब्रिटेन में लॉन्च होने के दो साल के भीतर ही यह स्कैंडिनेविया और पश्चिमी यूरोप में भी फैल गई। इसके बाद अगस्त 2009 में ऑस्ट्रेलिया और 2008 में दक्षिण अफ्रीका में लॉन्च हुई।

Leave a Comment